DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Friday, October 16, 2020

फतेहपुर : अभिभावक विद्यालय में पढ़ेंगे लाडली सुरक्षा का पाठ, बालिकाओं को दी जाएगी यह सीख, देखें

फतेहपुर : अभिभावक विद्यालय में पढ़ेंगे लाडली सुरक्षा का पाठ, बालिकाओं को दी जाएगी यह सीख, देखें।

फतेहपुर : जैसा कि नवरात्र में देवी पूजन होता है। बालिकाएं भी देवी का स्वरूप मानी जाती है। ऐसे में नवरात्र में परिषदीय विद्यालयों में एक नई पहल शुरू करने की तैयारी है। स्कूलों में बालिका सुरक्षा के प्रति अभिभावकों को जागरूक किया जाएगा। कक्षाओं में अभिभावकों को बालिका सुरक्षा से लेकर पॉक्सो एक्ट तक की जानकारी दी जाएगी। नौ दिन परिषदीय विद्यालयों में 10-10 अभिभावकों को बुलाकर उन्हें जागरूक करने की तैयारी पूरी हो चुकी है। 

नवरात्र पर बालिकाओं और महिला सुरक्षा पर विशेष अभियान चलेगा। इसकी जिम्मेदारी बेसिक शिक्षा विभाग को दी गई है। 17 से 25 अक्टूबर के मध्य सुबह 8.30 से 9 बजे तक छात्र छात्राओं की सुरक्षा एवं संरक्षा के संबंध में जागरूक किया जाएगा। इसके अलावा कौशल शिक्षा कार्यक्रम बीना कैंपेन भी होंगे। मिशन प्रेरणा की वेबसाइट यूट्यूब पर वीडियो और अन्य सामग्री उपलब्ध कराई गई है। वीडियो दिखाकर एवं संदर्भ सामग्री की सहायता से खासकर बालिकाओं को जागरूक किया जाएगा। कार्यक्रम की मानीटरिंग के लिए आईजीआरएस प्रणाली के माध्यम से शिक्षकों द्वारा किए गए कार्य की मानीटरिंग की जाएगी। 

बुलाई जाएंगी मीना मंच की तीन तीन बालिकाएं : मीना मंच की सुगमकर्ता का दायित्व होगा कि प्रतिदिन मीना मंच नवरात्र में बालिकाओं को लिए कार्यक्रम तैयार हो की सक्रिय तीन तीन बालिकाओं को विद्यालय में बुलाकर उन्हें कानूनी जानकारी और हेल्पलाइन नंबर मॉकड्रिल के माध्यम से प्रदान करेंगी। वहीं प्रधानाध्यापक अपने विद्यालय के दस दस अभिभावकों को प्रत्येक विद्यालय में बुलाकर पॉक्सो कानून, घरेलू हिंसा, बाल विवाह, सेफ व अनसेफ टच के बारे में जानकारी देंगे।

बालिकाओं को यह दी जाएगी सीख : कार्यक्रम के तहत मीना मंच की बालिकाओं को नवरात्रि में स्कूल के माध्यम से चाइल्ड हेल्प लाइन नम्बर 1098, महिला हेल्प लाइन नम्बर 1090, हेल्प लाइन नम्बर 112 तथा 181 की भी जानकारी दी जाएगी। जिसमें इन नंबरों को प्रयोग एवं उससे मिलनी वाली मदद के बारे में विस्तार से बताए जाने की रूपरेखा।



क्या बोली महिला शक्तियां....

नवरात्र में मां दुर्गा की अराधना की जाती है। बालिकाएं भी देवी का ही स्वरूप होती है। जिनकी पूजा भी की जाती है। ऐसे में यदि विद्यालयों में बालिकाओं को जागरुक करने का कार्य किया जा रहा है तो निश्चित ही सराहनीय कदम है। ऐसा हर नवरात्र को करना चाहिए। -स्वाति

समाज में महिला एवं बालिका उत्पीड़न की घटनाओं को लेकर आज की नारी को जागरुक बनाना होगा। यदि विद्यालयों में यह पहल शुरू की जा रही है तो एक अच्छा प्रयास होगा। बालिकाओं को अपनी सुरक्षा के प्रति सजगता आएगी और उनमें आत्म विश्वास भी बढ़ेगा। -गर्विता सिंह

"नवरात्र में बालिकाओं को सुरक्षा के प्रति जागरुक करने के लिए कार्यक्रम तैयार हो चुका है। पूरे नवरात्र विद्यालयों में यह कार्यक्रम चलेगा। इसके लिए खंड शिक्षाधिकारियों को दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं। -शिवेन्द्र सिंह, बीएसए

No comments:
Write comments