DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Thursday, September 24, 2020

औरैया : जिलाधिकारी ने टेंडर प्रक्रिया निरस्त करने के दिए निर्देश, स्वेटर वितरण की शर्त में खामियों पर की गई कार्रवाई

औरैया : जिलाधिकारी ने टेंडर प्रक्रिया निरस्त करने के दिए निर्देश, स्वेटर वितरण की शर्त में खामियों पर की गई कार्रवाई।

औरैया : स्वेटर खरीद के लिए बेसिक शिक्षा विभाग पर मनचाही फर्म को टेंडर देने के लिए गड़बड़ियों को लेकर जिलाधिकारी ने टेंडर निरस्त कर दिया है। इसमें कुल 32 फर्मों ने आवेदन किए थे। कई फर्म संचालकों का आरोप था कि टेंडर खुलने के समय उनको जानकारी भी नहीं दी गई थी। गौरतलब है कि समय से स्कूली बच्चों को स्वेटर मुहैया कराने के लिए जेम पोर्टल के माध्यम से बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा निविदाएं मांगी गई थी। 


जिसमें ललितपुर, हाथरस, लुधियाना, भटिंडा (पंजाब), सीतापुर, बस्ती, कानपुर नगर, मऊ, औरैया, शिवपुरी (एमपी), इटावा, लखीमपुर, बनारस, रायबरेली,बरेली,रांची, बहराइच, मुरादाबाद, बस्ती, लखनऊ, बलरामपुर, औरैया, फरीदाबाद (हरियाणा) आदि 32 फर्मों ने जेम पोर्टल पर टेंडर डाले थे। फार्मों का आरोप था कि स्वेटर खरीद में जेम पोर्टल में विभाग ने सरिया सप्लाई किए जाने की शर्तों में बिड डाली है जिसको लेकर फर्मों ने आपत्ति जताई थी। वहीं कई फर्मों का यह भी आरोप था कि फर्मों के टेंडर खोलते समय उन्हें जानकारी भी  नहीं दी गई और मनमाने ढंग से टेंडर खोल लिए गए। फर्म संचालकों द्वारा डीएम अभिषेक सिंह से मामले की शिकायत की गई। जिस पर डीएम ने टेंडर प्रक्रिया निरस्त करने के निर्देश दिए। तथा बीएसए को नई सिरे  से प्रक्रिया पूरे करने के निर्देश दिए।


औरैया : खरीदने हैं बच्चों के स्वेटर और शर्त सरिया खरीद की, मनचाही फर्म को टेंडर देने के लिए की गई गड़बड़ी।

औरैया : घोटालेबाजों के कई पैतरे हैं, यह एक बानगी ही है। सर्दी का सीजन आने वाला है जिसको लेकर परिषदीय स्कूलों के बच्चों को लिए स्वेटर सप्लाई को लेकर टेंडर दिए जाने की प्रक्रिया चल रही है। जेम पोर्टल में स्वेटर खरीद की शर्त की जगह सरिया खरीद की शर्त डाल दी गई। स्वेटर खरीद में घोटाला करने के उद्देश्य से जेम पोर्टल में जिला बेसिक शिक्षा विभाग ने सरिया सप्लाई किए जाने की शर्ते में बिड डाली है। जिसको लेकर जो फर्म है वह भ्रमित है कि स्वेटर खरीद के लिए सरिया खरीद की शर्ते क्यूं डाल दी गई हैं। आवेदन की अंतिम तिथि निकल गई है। 


32 फर्मों ने आवेदन भी कर दिया है। डीएम अध्यक्षता में गठित की गई जांच कमेटी की जांच के बाद मनचाही फर्म को टेंडर दिए जाने की तैयारी है। 

कोरोना काल में घोटालेबाज आपदा में अवसर ढूढ़ने का कोई मौका नहीं चूक रहे हैं। जिससे जिला बेसिक शिक्षा विभाग ने सार्वजनिक खरीददारी के लिए बनाए गए गवर्नमेंट ई- मार्केट प्लेस (जेम) के माध्यम से बिड डाली है। जिसमें कई राज्यों ने आवेदन किया है जिसमें यूपी के साथ मध्यप्रदेश, पंजाब, हरियाणा की भी फर्मों ने आवेदन किया है। स्वेटर खरीद में मनचाही फर्म को टेंडर देने के लिए नियम शर्त सरिया खरीद की डाल दी गई है। जिसमें मनचाही फर्म से रुपये ऐंठकर अफसरों को जेब भरकर उसे टेंडर देने की तैयारी है। 


सूत्र बताते हैं इसमें जिले के कई सफेदपोश नेताओं व अफसरों की जेब भरी जाएगी। इन जिलों की फर्म ने किए आवेदन जेम पोर्टल के माध्यम से रजिस्टर्ड 32 फर्मों ने आवेदन किए हैं। जिसमें ललितपुर, हाथरस, लुधियाना और भटिंडा (पंजाब) सीतापुर, बस्ती, कानपुर नगर, मऊ, औरैया, शिवपुरी (एमपी), इटावा, लखीमपुर, बनारस, रायबरेली, रांची, बहराइच, बरेली, मुरादाबाद, बस्ती लखनऊ, बलरामपुर, और फरीदाबाद(हरियाणा) से आवेदन किए गए हैं।

No comments:
Write comments