DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Sunday, March 7, 2021

फतेहपुर : अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण में कार्यरत शिक्षकों के अवशेष वेतन न मिलने पर नौ मार्च को देंगे धरना, उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने बीएसए को सौंपा ज्ञापन

फतेहपुर : अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण में कार्यरत शिक्षकों के अवशेष वेतन न मिलने पर नौ मार्च को देंगे धरना, उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने बीएसए को सौंपा ज्ञापन।।

फतेहपुर : कल खत्म हो रही ‘डेडलाइन', अब संघ व विभाग पर शिक्षकों की निगाहें!, डीएम ने लिया मामले का संज्ञान, हरकत में आया विभाग

फतेहपुर : प्राथमिक शिक्षक संघ की पांच ब्लॉक इकाईयों द्वारा विभिन्न शिक्षक भर्तियों के अधीन सेवा में आए शिक्षकों के अवशेष वेतन भुगतान व सत्यापन को लेकर विभाग को दी गई डेडलाइन कल समाप्त हो रही है। ऐसे में शिक्षकों की निगाहें संघ व विभाग की ओर लगी हुई हैं। उधर मामले का संज्ञान लेते हुए डीएम ने बीएसए को जरूरी कदम उठाने क निर्देश दिए हैं। उधर मुख्यालय बीईओ ने शनिवार को पटल प्रभारी को एक पखवारे का समय देते हुए कार्यों को पूर्ण कराने के निर्देश जारी किए हैं।

मुख्यालय बीईओ ने पटल प्रभारी से कहा कि संघ व बीएसए के मध्य हुई वार्ता को देखते हुए 15 दिनों के भीतर कार्य को शीर्ष प्राथमिकता देते हुए पूरा कराया जाए। 12460, 15000, 16448 व 68500 शिक्षक भर्तियों के अधीन नवनियुक्त शिक्षकों के साथ अन्तर्जनपदीय शिक्षकों के अवशेष वेतन एवं सत्यापन के मामले को तूल पकड़ता देख बेसिक शिक्षा विभाग सक्रिय हुआ है। सत्यापन की स्पष्ट सूची एवं अवशेष वेतन भुगतान की मांग को पूरा करने के लिए असोथर, भिटौरा, खजुहा, हसवा एवं बहुआ ब्लॉक इकाईयों के अध्यक्षों द्वारा बीएसए को ज्ञापन देने के बाद दूसरे कई ब्लॉक अध्यक्षों ने समर्थन देने का ऐलान किया था।


सत्यापन की स्थिति पर सर्वाधिक पेंच

सूत्र बताते हैं कि नवनियुक्त शिक्षकों में सत्यापन की स्थिति अस्पष्ट होने से सबसे अधिक रोष है। शिक्षकों को यही नहीं पता है कि उनके अब तक कितने सत्यापन विभाग द्वारा कराए जा चुके हैं। पटल प्रभारी भी शिक्षकों को संतोषजनक जवाब नहीं दे पा रहे हैं। संघ ने अपनी तीन सूत्रीय मांगों में सत्यापन की स्थिति स्पष्ट करने की मांग की है।

विभाग के साथ संघ की भी परीक्षा

अवशेष वेतन एवं सत्यापन का मामला जहां एक ओर विभाग के लिए सिरदर्द बन गया है तो वहीं संघ के लिए भी किसी परीक्षा से कम नहीं है। जानकार बताते हैं कि इस वक्त संघ के सामने पूरी तरह ‘एकजुट रहने के संदेश देने के साथ शिक्षकों के हित को सर्वोपरि रखने की भी चुनौती है।




....….


फतेहपुर : अवशेष वेतन को लेकर संघ ने म्यान से निकाली तलवारें, भर्तियों के तहत सेवारत शिक्षकों के वेतन बकाए का मामला

पांच ब्लॉक अध्यक्षों के समर्थन में आए दूसरे ब्लॉक अध्यक्ष

भर्तियों के तहत सेवारत शिक्षकों के वेतन बकाए का मामला


फतेहपुर : विभिन्न शिक्षक भर्तियों के अधीन सेवा में आए सैकड़ों परिषदीय शिक्षकों के वेतन बकाए का भुगतान एवं अभिलेखों के सत्यापन में हो रही देरी को लेकर आखिरकार प्राथमिक शिक्षक संघ की ब्लॉक इकाईयों ने विभाग के खिलाफ म्यान से तलवारें निकाल ली हैं। पांच ब्लॉक अध्यक्षों द्वारा बीएसए को ज्ञापन देने के बाद अब दूसरे ब्लॉक अध्यक्षों ने भी हुंकार भरी है। मांगे पूरी करने के लिए 8 मार्च तक का समय दिया गया है।


12460, 15000, 16448 व 68500 शिक्षक भर्तियों के अधीन नवनियुक्त शिक्षकों के साथ अन्तर्जनपदीय शिक्षकों के अवशेष वेतन एवं सत्यापन का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। सत्यापन की स्पष्ट सूची एवं अवशेष वेतन भुगतान की मांग को पूरा करने के लिए असोथर, भिटौरा, खजुहा, हसवा एवं बहुआ ब्लॉक इकाईयों के अध्यक्षों द्वारा बीएसए को ज्ञापन देने के बाद दूसरे कई ब्लॉक अध्यक्षों ने समर्थन देने का ऐलान किया है।

गर्मा गई है शिक्षक राजनीति

बीएसए को ज्ञापन देने के मामले में शिक्षक राजनीति गर्मा गई है। सूत्र बताते हैं कि ब्लॉक इकाईयों द्वारा ज्ञापन देना जिला इकाई को रास नहीं आया। सूत्र यह भी बताते हैं कि जिला इकाई का यह कहना है कि जब मामला डीएम के संज्ञान में है तो पहले उनके द्वारा दी गई डेडलाइन पूरी होने दी जाए। यदि फिर भी कार्य न हुआ तो धरना प्रदर्शन किया जाए। सूत्रों ने यह भी बताया कि ब्लॉक इकाईयों द्वारा जिला इकाई को विश्वास में लिए बिना ज्ञापन देने के कदम से संघ में 'अविश्वास' एवं ' श्रेय लेने की होड़' जैसी शब्दावली भी उभर कर सामने आ रही है।







फतेहपुर : अंतरजनपदीय स्थानांतरण में शिक्षकों के अवशेष वेतन आदेश निर्गत न करने के मामले में बुधवार उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने नाराजगी जाहिर की। बीएसए को ज्ञापन सौंपकर चेतावनी दी कि यदि मांगें पूरी न हुई तो नौ मार्च को धरना दिया जाएगा।


बीएसएस शिवेंद्र प्रताप सिंह को ज्ञापन सौंपते उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारी।

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ अध्यक्ष अनुराग कुमार मिश्र की अगुवाई में एक प्रतिनिधि मंडल बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह से मिला। अध्यक्ष ने कहा कि जिले में 2000 शिक्षकों के सत्यापन में खेल हो रहा है। कार्यालय को सत्यापन संबंधी प्रपत्र मिल जाने के बावजूद अभी तक इन पर काम नहीं हो रहा है। मंत्री दिनेश कुमार प्रजापति ने बैचवार/भर्तीवार सूची कार्यालय के सूचना पट्ट पर चस्पा करने की मांग की। उन्होंने सत्यापन हासिल करने वालों की सूची निर्गत करने की भी मांग की है।

स्कूलों के अधूरे कामों को 10 दिन में पूरा कराएं

फतेहपुर : कलक्ट्रेट के गांधी सभागार में जिला शिक्षा एवं अनुश्रवण समिति की बैठक हुई। इसमें मिशन कायाकल्प योजना से कराए गए कामों की समीक्षा की गई। जिन स्कूलों के कार्य अधूरे हैं, उनको 10 दिन के अंदर पूरा कराने के निर्देश दिए गए। जिला शिक्षा एवं अनुश्रवण समिति की बैठक में स्कूल में शौचालय, मूत्रालय, रैंप, पेयजल, विद्युतीकरण, श्यामपट्ट, रंगाई पुताई, विद्युत वायरिंग, टाइल्स लगाने, हैंडवासिंग के कामों की समीक्षा हुई। डीएम अपूर्वा दुबे ने बीईओ को निर्देश दिए कि अधूरे कामों को पूरा करा करके शून्य कराएं। (संवाद)

No comments:
Write comments