DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label कानपुर. Show all posts
Showing posts with label कानपुर. Show all posts

Friday, September 18, 2020

कानपुर : गुरुजी ने दी 78 बिंदुओं पर जानकारी, अब सत्यापन में फर्जीवाड़ा मिला तो जाएगी नौकरी

कानपुर : गुरुजी ने दी 78 बिंदुओं पर जानकारी, अब सत्यापन में फर्जीवाड़ा मिला तो जाएगी नौकरी।


बेसिक व माध्यमिक शिक्षकों के दस्तावेजों का सत्यापन शीघ्र फर्जीवाड़ा मिलने पर होगी एफआइआर।

कानपुर :  फर्जी अंकतालिका समेत अन्य दस्तावेजों को लगाकर शिक्षक बनने के मामले में परिषदीय विद्यालयों के 5000 शिक्षकों से कुछ जानकारियां मांगी गईं थीं, जो कि 78 अलग-अलग बिंदुओं पर दी जानी थीं। अब उन जानकारियों का ब्योरा एकत्रित करने के साथ ही उनके सत्यापन का कार्य भी प्रारंभ कर दिया जाएगा।

बीएसए डॉ. पवन तिवारी ने बताया कि उक्त 78 बिंदुओं में, शिक्षकों के नाम, उनकी जन्मतिथि, अनुक्रमांक, स्थानांतरण की स्थिति, पिता का नाम, जन्मस्थान आदि अन्य बिंदु सुनिश्चित किए गए थे। उन्होंने बताया कि जांच में फर्जीवाड़ा मिलने पर संबंधित शिक्षक के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई जाएगी।


बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने फर्जी दस्तावजों के आधार पर शिक्षक बनने का मामला प्रकाश में आने के बाद उनके शैक्षणिक दस्तावेजों की जांच का आदेश दिया था। उधर, 2000 से अधिक माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों की अंकतालिकाएं भी संबंधित विवि को प्रेषित की जा चुकी हैं। डीआइओएस सतीश तिवारी ने बताया कि यदि किसी शिक्षक के शैक्षणिक दस्तावेजों में गड़बड़ी मिली तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Monday, August 3, 2020

कानपुर में तैनात बीईओ ने कोरोना पॉजिटिव आने पर लगाई फांसी

पांच दिन बाद भी नहीं आई बीएसए कार्यालय के 20 कर्मचारियों की रिपोर्ट

पांच बीई ओ पॉजिटिव एक लिपिक भी गंभीर



कानपुर  : बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के पांच खंड शिक्षा अधिकारियों (बीईओ), एक लिपिक और एक शिक्षक व इनके परिवार के सदस्यों के कोरोना पॉजिटिव निकलने से हड़कंप मच गया है। कोरोना पॉजिटिव निकले किदवई नगर, सदर और तीन दिन पहले तक मुख्यालय का भी कार्यभार संभालने वाले बीईओ सुरेश कुमार ने रविवार को उन्नाव में आत्महत्या कर ली। वह शुक्रवार को कार्यालय आए थे और कई कर्मचारियों से मिले थे। बीईओ सदर कार्यालय के एक कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव होने के बाद नारायणा के आईसीयू में भर्ती हैं। बीएसए कार्यालय में जिन 20 की पांच दिन पहले जांच हुई थी, उनकी रिपोर्ट अब तक नहीं आ सकी है। बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय और खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालयों में कोरोना को लेकर हुई लापरवाही अब सामने आने लगी है।





बीएसए ने माना, स्थिति गंभीर

बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ. पवन कुमार तिवारी ने कहा कि स्थितियां ठीक नहीं हैं। हमारे 50 फीसदी खंड शिक्षा अधिकारी संक्रमित हो चुके हैं। कर्मचारी भी संक्रमित हैं। उन्होंने बताया कि काम अधिक है। अभी चार-पांच दिन पहले बीईओ सुरेश कुमार से उनके आग्रह पर बीईओ मुख्यालय का काम हटाया था। किदवई नगर और तहसील का काम उनके पास था। उन्होंने कहा कि स्थितियों को देखते हुए जो भी सुरक्षा को लेकर कदम उठाए जा सकते हैं, वह उठाएंगे।

--------


उन्नाव में खंड शिक्षाधिकारी ने कोरोना पॉजिटिव होने पर फांसी लगा कर दे दी जान।

उन्नाव :  कानपुर नगर में तैनात खंड शिक्षाधिकारी ने कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आने के बाद शनिवार देर रात घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पत्नी ने शव लटकता देखा तो होश उड़ गए। परिजन व पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंचे चौकी प्रभारी ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।





शहर कोतवाली क्षेत्र के कल्याणी देवी निवासी सुरेश कानपुर में खंड शिक्षाधिकारी (बीईओ) के पद पर तैनात थे। एक पखवाड़ा पहले तबीयत खराब होने पर 27 जुलाई को उर्सला में टायफाइड और कोरोना की जांच कराई थी। शनिवार दोपहर 2.30 पर उर्सला से फोन पर जानकारी दी गई कि जांच में सुरेश कोरोना से संक्रमित है। परिजनों ने उन्हें समझाया कि चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। जल्दी ही ठीक हो जाएंगे। रात परिवार के सभी सदस्य खाना खाने के बाद अपने अपने कमरों में सोने के लिए चले गए। इसी दौरान सुरने ने पंखे से लटककर जान दे दी।





रविवार सुबह पत्नी हेमलता ने सुरेश को फंदे से लटकता देखा को सन्न रह गईं। बेटे सुमित ने बताया कि पिता की कानपुर में तैनाती थी। उनके पास तीन ब्लॉक सदर बाजार, किदवईनगर और मुख्यालय था। तबीयत खराब होने पर छुट्टी ले रखी थी। टायफाइड व कोरोना की जांच कराई थी। शनिवार दोपहर उर्सला से फोन पर उनके कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी गई थी।








 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Saturday, July 4, 2020

कानपुर : 17 हजार शिक्षकों के दस्तावेजों की होगी जांच

17 हजार शिक्षकों के दस्तावेजों की होगी जांच

परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत 12 हजार से अधिक शिक्षकों की तीन स्तरों पर जांच होगी इसमें अब शक्षामित्रों और अनुदेशकों को भी शामिल कर लिया गया है। अंतिम सत्यापन आधार से होगा। पहले चरण की जांच प्रक्रिया शुरू भी कर दी गई है। उधर, माध्यमिक के करीब पांच हजार शिक्षकों की जांच के लिए भी दस्तावेज जुटाने का काम शुरू कर दिया गया है। प्रधानाचार्यों को शनिवार तक प्रत्येक शिक्षकों के पूरे दस्तावेज जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में जमा करने होंगे। एक के ही पत्राजात से कई स्थानों पर नौकरी, डॉ. भीमराव आंबेडकर विवि, आगरा और संपूर्णानन्द संस्कृत वैवि के फर्जी प्रमाणपत्रों से की जा रही नौकरी जैसे मामले सामने आने के बाद बड़े स्तर पर जांच का फैसला लिया गया है। अब नए सिरे से सभी परिषदीय व माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों के दस्तावेजों की जांच की जानी है।

Friday, February 21, 2020

कानपुर : पांच सितारा मॉडल पर बनाएंगे सरकारी स्कूल, आपरेशन कायाकल्प मंडलीय संगोष्ठी में बोले बेसिक शिक्षा के महानिदेशक

Sunday, January 5, 2020

कानपुर डीएम के निर्देश : मार्कशीट से मिलेगा टीईटी केंद्र पर प्रवेश

कानपुर डीएम के निर्देश : मार्कशीट से मिलेगा टीईटी केंद्र पर प्रवेश

Sunday, December 8, 2019

कानपुर नगर : ARP चयन लिखित परीक्षा का परिणाम घोषित, 09 दिसम्बर 2019 को होगी माइक्रो टीचिंग, देखें सूची

कानपुर नगर : ARP चयन लिखित परीक्षा का परिणाम घोषित, 09 दिसम्बर 2019 को होगी माइक्रो टीचिंग, देखें सूची।









 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।