DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Tuesday, September 8, 2020

बाराबंकी : शिक्षकों से तू-तड़ाक में की बात तो होगी कार्यवाही

शिक्षकों से तू-तड़ाक में की बात, तो होगी कार्यवाही


बाराबंकी। शिक्षा विभाग के कर्मचारियों ने अगर शिक्षकों से तू तड़ाक में बात की तो उनपर कार्यवाही भी हो सकती है।आदर सूचक शब्दों के साथ नाम न लेकर रौब  में बात करने वाले कार्यालय के कर्मचारियों को अनुशासनहीनता की कठोर कार्यवाही झेलनी पड सकती है।अक्सर देखा जाता है कि शिक्षा विभाग के कर्मचारी, समस्या लेकर आने वाले शिक्षकों से बेअदब और तू तड़ाक में बात करके अपना रौब लड़ते रहते हैं। 


बेअदब शैली में बात करने वाले कर्मचारी अब सतर्क हो जायें और अपनी भाषा शैली में सुधार कर लें अन्यथा उनपर अनुशासनहीनता की कार्यवाही होगी।खंड शिक्षा अधिकारी बंकी आर पी यादव ने शिक्षक दिवस से एक दिन पूर्व एक आदेश जारी कर कर्मचारियों को आदेशित किया कि वह शिक्षकों से अदब और सम्मान से पेश आये। दाई ओ बंकी ने अपने आदेश में स्पष्ट शब्दों में लिखा है कि उनके संज्ञान में आया है कि कार्यालय और विद्यालयों में कार्यरत कर्मचारियों द्वारा शिक्षकों के प्रति सम्मान जनक व्यवहार नहीं किया जा रहा है जबकि शिक्षक समाज के प्रतिष्ठित व्यक्ति हैं। 


उनके प्रति सभी कर्मचारियों द्वारा आदरपूर्ण व सम्मानजनक सम्बोधन की अनिवार्यता है। अतःसमस्त कर्मचारी किसी भी शिक्षक की उपस्थिति अथवा अनुपस्थिति में वार्ता करने हेतु शिक्षकों के नाम में सुश्री, श्रीमती, श्रीमान, सर आदि आदर सूचक संसाधनों का ही प्रयोग करें। बिना आदर सूचक शब्दों के सीधे नाम से सम्बोधन करने वाले कर्मचारी के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। बी ओ बंकी, आरपी यादव के इस आदेश की हर तरफतारीफहो रही है। इससे शिक्षक समाज बहुत खुश है और अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहा है।


No comments:
Write comments