DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Sunday, November 29, 2020

फतेहपुर : नवनियुक्त शिक्षक/शिक्षिकाओं के अभिमुखीकरण के सम्बन्ध में डायट प्राचार्य का आदेश जारी।

फतेहपुर : नवनियुक्त शिक्षक/शिक्षिकाओं के अभिमुखीकरण के सम्बन्ध में डायट प्राचार्य का आदेश जारी।











फतेहपुर : जनपद को मिले नए शिक्षकों की लगी क्लास, दिया गया प्रशिक्षण।

प्रशिक्षण : राजकीय माध्यमिक 81 तो परिषदीय स्कूलों में 471 शिक्षक हुए हैं तैनात, माध्यमिक के लिए जीआईसी में तो बेसिक के लिए डायट में दिया गया शिक्षकों को प्रशिक्षण

फतेहपुर : जिले में चल रही शिक्षकों की कमी को देखते हुए शासन द्वारा बीते दिनों राजकीय माध्यमिक विद्यालयों समेत परिषदीय विद्यालयों में भारी संख्या में नए शिक्षकों की तैनाती की गई है। अब इन्हें अपने दायित्वों को निष्ठा के साथ निर्वहन कराने के लिए इनको प्रशिक्षण दिया जा रहा है । माध्यमिक शिक्षा विभाग ने राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में नवनियुक्त 81 शिक्षकों को शहर के राजकीय इंटर कालेज में तो परिषदीय विद्यालयों के 471 शिक्षक शिक्षिकाओं को डायट परिसर में प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया | जिसमें वक्ताओं ने उन्हें कई बिंदुओं पर जानकारी दी।


परिषदीय शिक्षकों को भी पढ़ाया गया पाठः बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित प्राथमिक विद्यालयों में तैनाती पाए 471 शिक्षक शिक्षिकाओं के लिए डायट प्रशासन द्वारा परिसर में एक दिन में 50 के बैच में 25- 25 शिक्षकों को बुलाकर प्रशिक्षण दिया गया। डायट प्राचार्य नजरुददीन अंसारी के नेतृत्व में डायट प्रवक्ताओं ने कई बिंदुओं पर प्रशिक्षित किया गया। प्रथम बैच में डायट प्रवक्ता विनय कुमार मिश्र एवं द्वितीय में कुलदीप पाण्डेय द्वारा शिक्षकों को बेसिक शिक्षा विभाग के प्रशासनिक ढांचा, गुणवत्ता संवर्धन, ऑपरेशन कायाकल्प आदि बिंदुओं पर विस्तार से जानकारी दी।



जीआईसी में तीन दिवसीय उन्मुखी प्रशिक्षण

जिले के राजकीय इंटर कालेज एवं राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में नई तैनाती पाए 81 शिक्षकों के लिए बुधवार से तीन दिवसीय उन्मुखी प्रशिक्षण कार्यशाला का शुभारम्भ किया गया। शहर के राजकीय इंटर कालेज में आयोजित कार्यशाला में पहले दिन डीआईओएस महेन्द्र प्रताप सिंह, प्रधानाचार्य उदय प्रभात एवं प्रधानाचार्य परिषद के अध्यक्ष प्रभूदत्त दीक्षित समेत अन्य के द्वारा नए शिक्षकों को कई बिंदुओं पर जानकारी देते हुए उन्हें निष्ठापूर्वक कार्य किए जाने की नसीहत दी गई।

फतेहपुर : नवनियुक्त शिक्षकों का आज से दो दिन का प्रशिक्षण शुरू, 25-25 के समूहों में दोनों पालियों में होगा प्रशिक्षण।

फतेहपुर : जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) बुधवार से नवनियुक्त शिक्षकों को दो दिवसीय प्रशिक्षण देने जा रहा है। दो पालियों में होने वाले प्रशिक्षण में 25-25 के समूह में शिक्षक शामिल होंगे। प्रशिक्षण का उद्देश्य प्राथमिक शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करना है।

डायट प्राचार्य नजरुद्दीन अंसारी ने बताया कि नवनियुक्त 471 शिक्षकों को नई तकनीकि से पठन पाठन का तरीका समझाने के लिए इस प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है। प्रशिक्षण 28 दिसंबर तक चलेगा। डायट प्राचार्य ने बताया कि परिषदीय स्कूलों के निरीक्षण में प्रायः देखा जा रहा है कि कक्षा पांच के बच्चे हिंदी भाषा और 100 तक की गिनती तक नहीं पढ़ पाते हैं। कक्षा आठ तक फेल न करने की व्यवस्था होने के कारण इन बच्चों को अगली कक्षा में प्रोन्नति करना स्कूलों की मजबूरी है। इसके पीछे कारण है कि शिक्षकों के पढ़ाने के तौर तरीके बच्चों की समझ से परे हैं। यही कारण है कि शिक्षक जो भी पढ़ाते हैं, वह उनके समझ में नहीं आता है। ऐसे में डायट ने इसके लिए जिले नवनियुक्त 471 सहायक अध्यापकों को प्रशिक्षित करने का निर्णय लिया गया है। दो दिनी प्रशिक्षण 25-25 के समूह में दो पालियों में कराया जाएगा।

बताया कि बुधवार से डायट में सुबह 9.30 बजे से प्रशिक्षण का शुभारंभ होगा। इन शिक्षकों को पठन पाठन के नए तरीके बताए जाएंगे, जिससे वह बच्चों को प्रेरणा एप, मिशन कायाकल्प के माध्य से पढ़ाकर आधारभूत सांचा मजबूत कर सकें।

No comments:
Write comments