DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Saturday, June 6, 2020

सीएम योगी बोले- कुछ चंदाखोर पीआईएल दाखिल कर नौकरियों में अटका रहे हैं रोड़ा

जन्मदिन पर सीएम योगी Live : पूछे गए शिक्षक भर्ती व नियुक्ति पर सबसे अधिक सवाल


सीएम योगी बोले- कुछ चंदाखोर पीआईएल दाखिल कर नौकरियों में रोड़ा अटका रहे हैं, हम युवाओं के साथ


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 69000 सहायक शिक्षक भर्ती मामले में लगातार कोर्ट में लगातार पीआईएल दाखिल करने पर कहा कि कुछ लोगों ने इसे चंदा वसूली का माध्यम बना लिया है। उन्होंने कहा कि कुछ चंदाखोर पीआईएल दाखिल कर नौकरियों में रोड़ा अटका रहे हैं, हम युवाओं के साथ। यह बातें मुख्यमंत्री ने हिन्दुस्तान द्वारा आयोजित वेबिनार में कहीं। 


मुख्यमंत्री ने कहा कि 69000 की भर्ती निकाली तो एनसीईटी ने बीएड को भी मेरिट को बढ़ाना पड़ा। पांच लाख लोगों ने आवेदन किया, हम लोगों ने मेरिट को आगे बढ़ाया। ये राज्य सरकार का दायित्व है कि मेरिट को किस रूप में रखें कि अच्छे लोग ही आएं। हाईकोर्ट की बेंच ने सही माना और सही मानने के बाद यह प्रक्रिया काउंसलिंग आगे बढ़ी तो उसे स्टे किया गया है। डिवीजन बेंच में वहीं रखने जा रहे हैं जो सुप्रीम कोर्ट ने कहा है वैसा ही हुआ है। 


कुछ लोगों को चंदा वसूली का माध्यम चाहिए। ये लोग चंदा वसूली कर पीआईएल करने का काम करते हैं। राज्य सरकार युवाओं के हित में लड़ाई लड़ेगी। कोई खामी नहीं हैं। जो तथ्य लाए जा रहे हैं, खैर कोर्ट के आगे इसे रखा जाएगा।


06 Jun 2020
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लाइव साक्षात्कार के दौरान फेसबुक पर साढ़े 7 हजार से भी ज्यादा कमेंट आए। सबसे अधिक टिप्पणियां शिक्षक भर्ती व शिक्षकों के अंतरजनपीय तबादले को लेकर की गयीं। बहुत से लोगों ने उन्हें जन्मदिन की बधाई भी दी। यही नहीं, बहुत से लोगों ने अपनी समस्याएं बताने के साथ ही सरकार के कामकाज की प्रशंसा भी की।


आरती सिंह ने कहा कि लम्बे समय से अंतरजनपदीय तबादले रुके हुए हैं, इन पर भी ध्यान दिया जाए। वहीं पूर्णिमा यादव ने एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती की तरफ ध्यान खींचा। रंजना गुप्ता, ओमकार यादव , अर्चना वर्मा, अश्विनी कुमार समेत कई लोगों ने 12460 शिक्षक भर्ती में 7 हजार अभ्यर्थियों के ज्वाइनिंग लेटर जल्द दिलवाने की बात कही। भर्ती के तीन साल से लटकने की शिकायत करते हुए कहा कि इसे जल्द पूरा करवाया जाए। 


वहीं मो अयूब ने 4000 उर्दू शिक्षक भर्ती को भी पूरा करने का अनुरोध किया। बहुत से लोगों ने अपना दर्द भी साझा किया है। पिंकी शर्मा ने कहा कि वह 40 वर्ष के पार हो चुकी हैं। तीन बच्चे हैं और बैंक वाले लोन नहीं दे रहे। क्या करें? पंकज कुमार ने इंडस्ट्री में आ रही दिक्कतों को बताते हुए कहा कि प्रशासन हमें सहयोग नहीं दे रहा।


 वहीं स्थानीय लोगों ने अपने शहरों से संबंधित समस्याएं भी बताई हैं। महेश अग्रवाल व अमेरश वर्मा कहते हैं कि आपकी ऊर्जा देख कर चकित हूं। आप रात-दिन काम कर रहे हैं और सरकार के प्रयासों से यूपी में कोरोना का संक्रमण कम है।

No comments:
Write comments