DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Friday, June 26, 2020

यूपी बोर्ड : फेल होकर भी उत्तीर्ण हो सकेंगे हजारों परीक्षार्थी


यूपी बोर्ड : फेल होकर भी उत्तीर्ण हो सकेंगे हजारों परीक्षार्थी


यूपी बोर्ड रिजल्ट कल, हाईस्कूल में दो विषयों व इंटर में एक विषय में अनुत्तीर्ण दे सकेंगे कंपार्टमेंट परीक्षा


यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर परीक्षा 2020 का परिणाम 27 जून को आ रहा है। करीब 51 लाख परीक्षाíथयों में से उत्तीर्ण होने वालों के साथ ही अनुत्तीर्ण होने वालों की भी बल्ले-बल्ले होगी। इतना पढ़कर चौंकिए नहीं, बल्कि इस खबर से ये समङिाए कि वे कौन अभ्यर्थी हैं जो रिजल्ट में फेल होकर भी पास हो सकते हैं। प्रिय परीक्षाíथयों, आप शनिवार को घोषित हो रहे रिजल्ट के परिणाम को बदल सकते हो, बशर्ते समय पर आवेदन करके संबंधित विषय का अच्छे से इम्तिहान दे दो।


माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) हाईस्कूल में छह विषयों की परीक्षा लेता है। इसमें पांच विषयों में उत्तीर्ण और एक विषय में अनुत्तीर्ण का परिणाम उत्तीर्ण होगा। परीक्षार्थी चाहे तो अनुत्तीर्ण विषय की इंप्रूवमेंट परीक्षा देकर उसमें भी पास हो जाए। इससे उसे नया अंक सहप्रमाणपत्र मिलेगा और उत्तीर्ण प्रतिशत भी बढ़ जाएगा। यदि वह इस परीक्षा में शामिल नहीं होता है, तब भी उसका रिजल्ट उत्तीर्ण है। हाईस्कूल में ही यदि कोई परीक्षार्थी छह में से दो विषयों में अनुत्तीर्ण है तो उसका परिणाम भी अनुत्तीर्ण (फेल) होगा। ऐसा परीक्षार्थी कंपार्टमेंट परीक्षा का दावेदार होगा। यानी वह चाहे तो अनुत्तीर्ण होने वाले दो विषयों में से किसी एक विषय की परीक्षा दे दें और यदि उसमें उत्तीर्ण होता है तो वह पास हो जाएगा, उसे साल भर बाद हाईस्कूल की दोबारा पूरी परीक्षा नहीं देनी होगी। 


अब बात इंटरमीडिएट परीक्षा की। यूपी बोर्ड सभी परीक्षाíथयों की पांच विषयों की परीक्षा लेता है। उसमें यदि कोई परीक्षार्थी चार विषय में उत्तीर्ण है और एक विषय में अनुत्तीर्ण है तो उसका रिजल्ट अनुत्तीर्ण होगा लेकिन, वह चाहे तो अनुत्तीर्ण विषय की कंपार्टमेंट परीक्षा पास करके 12वीं उत्तीर्ण हो जाएगा। उसे वर्ष भर बाद दोबारा इंटर की परीक्षा नहीं देनी होगी।


अंकपत्र पर ही कंपार्टमेंट के लिए अर्ह होने की सूचना अंकित कराने की तैयारी में है। सचिव नीना श्रीवास्तव का कहना है कि परीक्षाíथयों के हित का प्रयास है।


इधर के वर्षो में यूपी बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा 2013 व इंटर का परिणाम 2016 में सबसे बेहतर आया है। इस बार भी अच्छे परिणाम की उम्मीद है, लेकिन पिछले रिकॉर्ड क्या टूटेंगे? इस पर सभी की निगाहें हैं।

इस बार डिप्टी सीएम घोषित करेंगे परिणाम
 लखनऊ : यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट का परिणाम शनिवार को डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा घोषित करेंगे। दोपहर 12 बजे लोक भवन में परीक्षा का परिणाम घोषित किया जाएगा। मालूम हो कि हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा में करीब 51 लाख विद्यार्थी शामिल हुए थे। अभी तक ज्यादातर उप्र माध्यमिक शिक्षा परिषद के प्रयागराज स्थित कार्यालय में बोर्ड सचिव द्वारा घोषित किया जाता रहा है। फिलहाल इसकी तैयारियां की जा रही हैं।

No comments:
Write comments