DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Wednesday, June 16, 2021

40 साल से ऊपर हैं तो यहां से कर सकते हैं लॉ और मैनेजमेंट की पढ़ाई, ऑनलाइन फ्री कोर्सेस का भी विकल्प

40 साल से ऊपर हैं तो यहां से कर सकते हैं लॉ और मैनेजमेंट की पढ़ाई, ऑनलाइन फ्री कोर्सेस का भी विकल्प


स्वयं पोर्टल संचालित सभी ऑनलाइन कोर्सस फ्री में संचालित किये जाते हैं।


Online Courses in Law and Management यदि परंपरागत कोर्सेस में दाखिला नहीं चाहते हैं और कुछ शॉर्ट टर्म कोर्सेस घर बैठे ऑनलाइन करना चाहते हैं तो शिक्षा मंत्रालय स्वयं पोर्टल swayam.gov.in पर उपल्ध कराये गये सम्बन्धित शॉर्ट टर्म लॉ कोर्सेस ऑनलाइन मोड में ज्वाईन कर सकते हैं।


नई दिल्ली ।  आमतौर पर मिड-कैरियर क्राइसिस से ऐसे प्रोफेशनल गुजरते हैं जिन्होंने अपनी रूचि या क्षमता के अनुसार कैरियर का चुनाव नहीं किया और लगभग 10 वर्षों तक किसी एक प्रोफेशन में रहने के बावजूद या तो वे अपनी प्रोफाइल से संतुष्ट नहीं होते या उनकी ग्रोथ सीमित हो चुकी होती है। सामान्यत: अपने वर्तमान जॉब या प्रोफेशन को स्विच करते हुए नये कैरियर की इच्छा और उसके लिए प्रयास शुरू करने वाले प्रोफेशनल्स की आयु 40 वर्ष या अधिक भी हो जाती है।


 ऐसे में आमतौर पर इन प्रोफेशनल्स के लिए नया कोर्स करने, विशेषतौर पर वर्तमान जॉब में रहते हुए ऑनलाइन मोड से करने की जरूरत बड़ी हो जाती है। ज्यादातर संस्थानों में कोर्सेस में दाखिला फ्रेश ग्रेजुएट्स को दिया जाता है। यदि मिड-कैरियर क्राइसिस में आपने लॉ या मैनेजमेंट में आगे कैरियर बनाने का सोचा है और नहीं जानते हैं कि कौन से संस्थान 40 वर्ष से अधिक प्रोफेशनल्स के लिए कोर्स कराते हैं और कहां से ऑनलाइन मोड में कोर्स किये जा सकते हैं, तो आइए हम आपकी थोड़ी मदद कर देते हैं।

40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लिए लॉ की पढ़ाई

देश के शीर्ष (सरकारी एवं निजी) विधि संस्थानों में विभिन्न यूजी और पीजी कार्यक्रमों में आमतौर पर दाखिला कॉमन लॉ ऐडमिशन टेस्ट (क्लैट) के माध्यम से दिया जाता है। स्नातक डिग्री लॉ कोर्सेस में दाखिले के लिए कोई अधिकतम आयु सीमा नहीं है इसलिए सीधे क्लैट यूजी प्रवेश परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं और स्कोर के आधार पर निर्धारित कॉलेज मे दाखिला ले सकते हैं। इन सस्थानों में आमतौर पर ऑफलाइन क्लासेस आयोजित की जाती हैं, लेकिन वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते फिलहाल ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित हो रही हैं। साथ ही, देश भर में उच्च शिक्षा में लागू की जा रही नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर्गत ऑनलाइन क्लासेस का भी विकल्प दिया जाना है।

लॉ की ऑनलाइन पढ़ाई

यदि परंपरागत लॉ कोर्सेस में दाखिला नहीं चाहते हैं और कुछ शॉर्ट टर्म कोर्सेस घर बैठे ऑनलाइन करना चाहते हैं तो भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के अभियान स्वयं (स्टडी वेब्स ऑफ एक्टिव-लर्निंग फॉर यंग एस्पायरिंग माईंड्स-SWAYAM) पोर्टल, swayam.gov.in पर उपल्ध कराये गये सम्बन्धित शॉर्ट टर्म लॉ कोर्सेस ऑनलाइन मोड में ज्वाईन कर सकते हैं। इन कोर्सेस की अवधि अधिकतम 24 सप्ताह तक है। इन कोर्सेस को देश के शीर्ष संस्थानों, जैसे नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी दिल्ली, आईआईटी खड़गपुर, आईआईटी मद्रास, आदि द्वारा ऑफर किया जाता है और ये सभी कोर्स फ्री में संचालित हैं।


प्रमुख फ्री ऑनलाइन लॉ कोर्सेस

ऐडेमिनिस्ट्रेटिव लॉ एक्सेस टू जस्टिस आंत्रप्रेन्योरशिप एण्ड आईपी स्ट्रेटेजी पेटेंट ड्राफ्टिंग फॉर बिगनर्स पेटेंट लॉ फॉर इंजीनियर्स राइट टू इंफॉर्मेशन एण्ड गुड गवर्नेंस


40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लिए मैनेजमेंट की पढ़ाई

लॉ की तरह ही प्रबंधन पाठक्रम भी मिड-कैरियर क्राइसिस से गुजर रहे प्रोफेशनल्स की पंसद होती है। लॉ की सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षा क्लैट की तरह ही मैनेजमेंट की सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षाओं में से एक कॉमन ऐडमिशन टेस्ट (कैट) के लिए भी कोई अधिकतम आयु नहीं हैं। यदि आप निर्धारित क्वालिफिकेशन रखते हैं तो मैनेजमेंट एंट्रेंस टेस्ट - कैट में सम्मिलित हो सकते हैं और कैट स्कोर के आधार पर आवंटित कॉलेज में दाखिला ले सकते हैं। इन कोर्सेस में आमतौर पर फिजिकल क्लासेस अटेंड करनी होती हैं, लेकिन महामारी को देखते हुए फिलहाल ऑनलाइन क्लासेस का भी विकल्प है। नई शिक्षा नीति के लागू होने के बाद ऑनलाइन क्लासेस का भी विकल्प दिया जाना है।

मैनेजमेंट की ऑनलाइन पढ़ाई

दूसरी तरफ, यदि शॉर्ट टर्म ऑनलाइन मैनेजमेंट कोर्सेस करना चाहते हैं तो इसके भी विकल्प स्वयं पोर्टल, swayam.gov.in पर मौजूद हैं। आईआईएम बैंगलोर, आईआईटी खड़गपुर, आईआईटी रूड़की, आईआईटी बॉम्बे, इग्नू, आदि द्वारा ऑफर किये जा रहे इन कोर्सेस की अवधि अधिकतम 24 सप्ताह तक है और हां, ये सभी ऑनलाइन कोर्स फ्री हैं।

प्रमुख फ्री ऑनलाइन मैनेजमेंट कोर्सेस

ऐडवांस्ड कॉर्पोरेट स्ट्रेटेजी फाइनेंशियल एकाउंटिंग डिजिटल मार्केटिंग बिजनेस एनालिटिक्स एवं डाटा माइनिंग बिजनेस ऑर्गेनाइजेशन एण्ड मैनेजमेंट एनजीओ मैनेजमेंट मैनेजमेंट फंक्शंस बिजनेस रिसर्च मेथड्स कंज्यूमर विहैवियर कॉर्पोरेट फाइनेंस कॉर्पोरेट सोशल रिप्सॉन्सिबिलिटी

No comments:
Write comments