DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Sunday, April 4, 2021

यूपी : नौवीं से 12वीं तक के स्कूल बंद करने पर अभी फैसला नहीं

यूपी : नौवीं से 12वीं तक के स्कूल बंद करने पर अभी फैसला नहीं 

स्कूलों को बंद करने का निर्णय ले सकेंगे डीएम, 9 से 12 के स्कूलों के बारे में होगा जल्द निर्णय


लखनऊ। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश सरकार द्वारा कक्षा 9 से 12 तक के स्कूलों भी बंद करने पर विचार किया जा रहा है। शनिवार को उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि कोरोना प्रदेश के हर जिलों में उतना सक्रिय नहीं है। जिन जिलों में मामलों में तेजी आ रही है वहां पर जिलाधिकारी कक्षा 9 से 12 तक के विद्यालय बंद करने का आदेश देने के लिए अधिकृत हो सकते हैं या नहीं, इस पर मुख्यमंत्री से वार्ता करके औपचारिक घोषणा होगी।


राजधानी में पत्रकारों में मुखातिब डॉ. शर्मा ने कहा कि पंचायत चुनाव के बाद यूपी बोर्ड की परीक्षाएं प्रारंभ होंगी । मई में ही यह परीक्षाएं शुरू होंगी । मालूम हो कि प्रदेश सरकार ने सभी बोर्ड के कक्षा आठ तक के स्कूलों को 11 अप्रैल तक बंद करने का आदेश पहले से ही दे रखा है। 


प्रदेश सरकार ने अभी तक नौवीं से 12वीं तक के स्कूल बंद करने के संबंध में कोई फैसला नहीं लिया है। इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से संपर्क किया गया है। इस मुद्दे पर चर्चा होना बाकी है। शनिवार को जीडी गोयनका पब्लिक स्कूल के 10 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम के बीच उन्होंने यह बात कहीं। उन्होंने अपने संबोधन में एक बार फिर दोहराया कि यूपी बोर्ड की परीक्षाएं अब अप्रैल के बजाए मई में कराई जाएंगी।


उन्होंने बताया कि प्रदेश का हर जिला कोरोना संक्रमण से प्रभावित नहीं है। जिलाधिकारी को इस संबंध में अधिकृत किया जा रहा है। वह अपने जिले में कोरोना संक्रमण की स्थितियों को देखते हुए स्कूल बंद करने पर फैसला लेंगे।


डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि उच्च शिक्षा में भी जिलाधिकारी को अधिकार दिया गया है। उपमुख्यमंत्री ने बताया कि इसी तरह का फार्मूला प्रदेश के उच्च शिक्षण संस्थानों में भी लागू किया गया। कोरोना संक्रमण को देखते हुए संबंधित विश्वविद्यालय और अन्य डिग्री कॉलेजों को लेकर उस जिले के जिलाधिकारी को अधिकार दिए गए हैं कि वह जिले की स्थिति को देखते हुए विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय से लेकर उच्च शिक्षण संस्थानों को संचालित करने के संबंध में फैसला ले सकते हैं। जिलाधिकारी कुलपति या प्राचार्यो की संस्तुति पर ही निर्णय लेंगे। इसके आधार पर लखनऊ विश्वविद्यालय ने आगामी 10 अप्रैल तक सभी संस्थानों में ऑफलाइन कक्षाओं को बंद करने की घोषणा कर दी है। यहां ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन किया जा रहा है।


मई में होंगी परीक्षा

उपमुख्यमंत्री ने बताया कि यूपी बोर्ड की 24 अप्रैल से पूर्व प्रस्तावित परीक्षाओं के अब मई के दूसरे या तीसरे सप्ताह से शुरू होने की संभावनाएं हैं।

No comments:
Write comments