DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Sunday, June 19, 2022

यूपी बोर्ड : स्क्रूटनी के लिए 12 जुलाई तक करें आवेदन

यूपी बोर्ड : परिणाम में त्रुटि की शिकायत आज से

प्रयागराज : उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने 18 जून को हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा - 2022 का परिणाम जारी करने के बाद परिणाम से जुड़ी शिकायतों को दूर करने की भी तैयारी कर ली है। इसके लिए यूपी बोर्ड मुख्यालय सहित प्रदेश सभी पांच क्षेत्रीय कार्यालयों में शिकायत प्रकोष्ठ (ग्रीवांस सेल) गठित किया गया है। यह प्रकोष्ठ बुधवार से काम करना शुरू कर देगा। यहां परीक्षार्थी अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

वर्ष 2022 की यूपी बोर्ड परीक्षा जिस तरह जल्दबाजी में कराई गई, उससे त्रुटि होने से इन्कार नहीं किया जा सकता है । इस बार प्रायोगिक परीक्षा की तिथि तक अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा आराधना शुक्ला की ओर से जारी की गई । प्रायोगिक परीक्षा इस वर्ष लिखित परीक्षा के बाद कराई गई। प्रायोगिक परीक्षा के साथ मूल्यांकन का कार्य भी चलता रहा। विषय के शिक्षक प्रायोगिक परीक्षा की तिथि पर परीक्षा कराने के पहले और बाद में मूल्यांकन कार्य करते रहे। यूपी बोर्ड सचिव दिब्यकांत शुक्ल ने बताया कि मेरठ, बरेली, गोरखपुर, वाराणसी और प्रयागराज क्षेत्रीय कार्यालयों में परीक्षार्थी आइनलाइन या कार्यालय में कार्यदिवस में उपस्थित होकर अथवा रजिस्टर्ड डाक से शिकायत भेज सकते हैं। इसके अलावा यूपी बोर्ड मुख्यालय में बनाए गए शिकायत प्रकोष्ठ में प्रत्यक्ष या रजिस्टर्ड से शिकायत भेजी जा सकती है। शिकायतों का तेजी से निस्तारण किया जाएगा।


यूपी बोर्ड : स्क्रूटनी के लिए 12 जुलाई तक करें आवेदन


लखनऊ। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा 2022 से जुड़ीं उत्तर पुस्तिकाओं की स्क्रूटनी (सन्निरीक्षा) के लिए 12 जुलाई तक ऑनलाइन आवेदन किए जा सकते हैं।

माध्यमिक शिक्षा परिषद के सचिव दिव्यकान्त शुक्ल के अनुसार, 500 रुपये प्रति प्रश्नपत्र की दर से (लिखित व प्रयोगात्मक खंड के लिए अलग-अलग) शुल्क निर्धारित है। अभ्यर्थियों को राजकीय कोषागार में चालान के जरिए शुल्क जमा करने के बाद ऑनलाइन भरे आवेदन को परिषद की वेबसाइट upmsp.edu.in से डाउनलोड करना होगा।

इसके बाद प्रिंट आउट के साथ मूल चालान पत्र संलग्न कर 12 जुलाई तक रजिस्टर्ड डाक से परिषद के संबंधित क्षेत्रीय कार्यालय भेजना होगा। बिना ऑनलाइन प्रक्रिया अपनाए सीधे कोरियर या डाक से भेजे गए आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे।



यूपी बोर्ड : 12 जुलाई तक करें स्क्रूटनी के लिए ऑनलाइन आवेदन

यूपी बोर्ड : हाईस्कूल के 2.79 लाख परीक्षार्थी एक विषय में फेल, खबर पढ़ें सबसे नीचे

प्रयागराज : यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा के अपने परिणाम से असंतुष्ट छात्र-छात्राएं स्क्रूटनी (सन्निरीक्षा) के लिए 12 जुलाई तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। सचिव दिब्यकांत शुक्ल ने बताया कि लिखित एवं प्रयोगात्मक खंड के लिए 500 रुपये प्रति प्रश्नपत्र की दर से निर्धारित है। स्क्रूटनी से संबंधित आवश्यक निर्देश बोर्ड की वेबसाइट upmsp.edu.in पर उपलब्ध है। इच्छुक अभ्यर्थी आवेदित विषयों के लिए निर्धारित शुल्क चालान के माध्यम से राजकीय कोषागार में जमा करेंगे। उसके बाद स्क्रूटनी के ऑनलाइन फॉर्म के प्रिंटआउट के साथ चालान पत्र संलग्न कर रजिस्टर्ड डाक से बोर्ड के संबंधित क्षेत्रीय कार्यालय को 12 जुलाई तक भेजेंगे।


क्षेत्रीय कार्यालय में बुधवार से खुलेगी ग्रीवांस सेल

प्रयागराज : यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा में शामिल छात्र-छात्राओं की परिणाम संबंधित किसी भी समस्या या शिकायत के समाधान के लिए बुधवार से सभी पांचों क्षेत्रीय कार्यालयों प्रयागराज, मेरठ, बरेली, वाराणसी और गोरखपुर में ग्रीवांस सेल खोली जाएगी। छात्र-छात्राओं के अंकपत्र सह प्रमाणपत्र में नाम, माता-पिता के नाम, जन्मतिथि या किसी अन्य विवरण में त्रुटि हो तो सेल में प्रत्यावेदन देकर संशोधन करा सकते हैं। सचिव दिब्यकांत शुक्ल ने बताया कि बुधवार से ग्रीवांस सेल सक्रिय हो जाएगी।

दो दिन के लिए यूपी बोर्ड में अवकाश

प्रयागराज : 2022 की बोर्ड परीक्षा घोषित करने के बाद यूपी बोर्ड मुख्यालय और क्षेत्रीय कार्यालयों में सोमवार और मंगलवार को दो दिन अवकाश रहेगा। रविवार को अवकाश है इसलिए अधिकारियों और कर्मचारियों को तीन दिन की छुट्टी मिल जाएगी।

यूपी बोर्ड : हाईस्कूल के 2.79 लाख परीक्षार्थी एक विषय में फेल

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा के लिए 27,81,645 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। इनमें से 25,20,634 छात्र-छात्राएं परीक्षा में शामिल हुए थे। 22,22,745 परीक्षार्थियों को सफलता मिली। परीक्षा में शामिल हुए 25,20,634 परीक्षार्थियों में से 2,79,102 (12.56 प्रतिशत) परीक्षार्थी एक विषय में फेल हो गए। यूपी बोर्ड के नियम के अनुसार हाईस्कूल के छह में से पांच विषय में पास होने पर छात्र को पास मान लिया जाता है। ऐसे में एक विषय में फेल छात्र चाहें तो अपनी मार्कशीट सुधारने के लिए अंक सुधार या इम्प्रूवमेंट परीक्षा दे सकते हैं।

जबकि 762 परीक्षार्थी दो विषय में फेल हैं और कम से कम एक विषय में पास होने के लिए कंपार्टमेंट परीक्षा में शामिल होना होगा। 2,74,762 (12.36 प्रतिशत) छात्र-छात्राएं तीन या अधिक विषय में फेल हैं और इन्हें बोर्ड ने क्रेडिट सिस्टम के लिए अर्ह माना है। यानि ऐसे छात्र चाहें तो जिस विषय में पास हैं उनके अलावा अन्य विषयों में अगले तीन वर्षों तक परीक्षा दे सकते हैं। यदि कुल पांच विषयों में हो जाते हैं तो उन्हें हाईस्कूल पास की मार्कशीट दे दी जाएगी।

2020 की तुलना में इस साल एक विषय में फेल होने वाले छात्रों की संख्या में कमी आई है। 2020 में 3,27,663 (14.19 प्रतिशत) छात्र एक विषय में जबकि 711 दो विषय में फेल थे। 4,21,170 (18.23 प्रतिशत) परीक्षार्थी तीन या अधिक विषय में फेल थे।


No comments:
Write comments