DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Thursday, June 11, 2020

फतेहपुर : २० जून से विभाग का डाटा अपडेट कराएंगे शिक्षक, मिशन प्रेरणा जैसी कई योजनाएं होगी ऑनलाइन

फतेहपुर : 12 बिंदुओं को लेकर बीएसए ने बैठक कर बनाई रणनीति।


फतेहपुर : परिषदीय विद्यालयों को लेकर बीएसए ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों के साथ 12 महत्वपूर्ण बिंदुओं को लेकर बैठक बुलाई। कोरोना वायरस को लेकर शासन की योजनाओं पर गंभीरता से काम करने के निर्देश दिए। कहानी कोरोना का संकट खत्म होगा और फिर काम पूरा न होने पर दिक्कत आएगी ऐसे में जिम्मेदार अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं पाएंगे। प्रमुख बिंदुओं में सभी प्रधानाध्यापक का दायित्व है कि मिशन प्रेरणा ग्रुप में प्रेषित सामग्री को वाट्सएप ग्रुप में अनिवार्य रूप से प्रेषित करें। शारदा कार्यक्रम के तहत आउट आफ स्कूल बच्चों का चिन्हांकन और उन्हें प्रवेश दिलाया जाए। 1 जुलाई को 5 साल की आयु वाले बच्चों को कक्षा 1 में प्रवेश दिया जाए। ऑपरेशन कायाकल्प में लापरवाही न की जाए, स्कूलों को दुरुस्त कराने में सहयोग किया जाए। एमडीएम का मांग पत्र गुरुवार को अवश्य भेजा जाए। ब्लाकों में होने जा ही फीडिंग में शासन की गाइड लाइन को अनिवार्य रूप से पालन हो और जून के अंत में काम पूरा हा जाए। जिन स्कूलों में प्रवासी रुके हैं उसकी सूचना विभाग को तत्काल दी जाए आदि तमाम बिंदुओं पर काम करने और कराने के लिए निर्देश खंड शिक्षा अधिकारियों को दिए।



फतेहपुर : २० जून से विभाग का डाटा अपडेट कराएंगे शिक्षक, मिशन प्रेरणा जैसी कई योजनाएं होगी ऑनलाइन।



फतेहपुर : कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए स्कूलों में लॉकडाउन के चलते तालाबंदी की गई है। तालाबंदी का असर यह है कि शिक्षक-शिक्षिकाएं तीन माह से घरों में हैं। ऑनलाइन पढ़ाई कराने में दैनिक दिनचर्या निपट रही है। तालाबंदी के चलते विभागीय कार्य रुके हुए हैं। अपर मुख्य सचिव ने विभाग की सूचनाओं का डाटा अपडेट करने का निर्णय लिया है। इसके लिए डीएम को पत्र लिखकर व्यवस्था करके डाटा अपडेट कराने के निर्देश दिए हैं। डीएम ने जिले के 13 ब्लॉकों का डाटा अपडेट कराने के लिए 20 जून से शिक्षक-शिक्षिकाओं की ड्यूटी लगाने के आदेश बीएसए को दिए हैं। बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि योजना को मूर्त रूप देने के लिए सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है। ब्लॉक संसाधन केंद्र में नियुक्त डाटा ऑपरेटर के पास दो शिफ्टों में अध्यापक जाएंगे। शारीरिक दूरी का पालन करते हुए सभी 2650 परिषदीय विद्यालयों का 4 बिंदुओं का डाटा जून माह के अंत तक अपडेट किया जाएगा।

अपर मुख्य सचिव के आदेश पर बीएसए को बताया जिम्मेदार

मिशन प्रेरणा जैसी कई योजनाएं होगी ऑनलाइन।



इन बिंदुओं पर होगा डाटा अपडेट

मध्याहन भोजन : लॉकडाउन के तहत विद्यालयों में पंजीकृत बच्चों को एमडीएम का राशन दिया जाना है। बंदी कॉल के 76 दिनों का प्रति बच्चा राशन और कन्वर्जन कास्ट की सूची विभाग की वेबसाइट में प्रधानाध्यापक द्वारा दर्ज कराई जाएगी। जिसमें कोटेदार के लिए राशन लिस्ट और कन्वर्जन कास्ट के लिए अभिभावक का खाता नंबर दर्ज होगा।

मानव संपदा पोर्टल : इसमें विभाग के सभी अधिकारियों, शिक्षकों और कर्मचारियों का समूचा ब्यौरा दर्ज होगा। जिसमें शिक्षक का नाम, पता, मोबाइल नंबर, नियुक्ति तिथि, प्रमोशन तिथि, कार्रवाई, अच्छा कार्य, स्थानांतरण, अवकाश, वार्षिक गोपनीय आख्या, वेतन, सेवानिवृत्ति लाभ आदि कुंडली बनाई जाएगी।

यू डायस पोर्टल : इसमें शैक्षणिक सत्र 2019-20 हेतु मानव संसाधन विकास मंत्रालय, स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग ने इसमें सूचनाएं अपडेट कराने के निर्देश दिए हैं। विद्यालयों में पंजीकृत छात्र संख्या, इंफ्रास्ट्रक्चर, तथा शिक्षकों से संबंधित ऑनलाइन आंकड़े आदि दर्ज किए जाएंगे। मिशन प्रेरणा : लॉकडाउन के दौरान बच्चों पर प्रतिकूल प्रभाव न पड़े इसके लिए ई-पाठशाला चलाई जा रही है। जिसके लिए दीक्षा एप को डाउनलोड करने के निर्देशों का पालन, कितने बच्चे वाट्सएप से जोड़े गए, कितने हुए लाभान्वित, कितने अभिभावकों से प्रतिदिन संपर्क किया गया उनका नाम पता मोबाइल नंबर, जिनके पास एंड्रायड फोन नहीं उन्हें दूरदर्शन और आल इंडिया रेडियो से जोड़ा गया।


 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

No comments:
Write comments