DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Tuesday, July 12, 2022

सीयूईटी यूजी 2022 में 98% छात्रों को उनके चुने हुए शहर में मिलेंगे परीक्षा केंद्र : यूजीसी अध्यक्ष

सीयूईटी यूजी 2022 में 98% छात्रों को उनके चुने हुए शहर में मिलेंगे परीक्षा केंद्र : यूजीसी अध्यक्ष

CUET UG 2022: विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने मंगलवार को कहा कि साझा विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा (सीयूईटी) देने वाले कम से कम 98 प्रतिशत उम्मीदवारों को उनकी पसंद के शहर में परीक्षा केंद्र आवंटित किये जायेंगे। यूजीसी प्रमुख की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब छात्रों ने परीक्षा के लिये देर से प्रवेश कार्ड जारी किये जाने को लेकर शिकायत की है। जगदीश कुमार ने 'पीटीआई भाषा' से कहा, '' सुरक्षा कारणों एवं परीक्षा में कदाचार से बचने के लिये प्रवेश कार्ड परीक्षा से चार दिन पहले जारी किए गए। छात्रों को परेशान नहीं होना चाहिए ''



उनहोंने कहा, '' कम से कम 98 प्रतिशत उम्मीदवारों को उनकी पसंद के शहर में परीक्षा केंद्र मिलेंगे और जिन्हें आवंटित केंद्र उपयुक्त नहीं लगता है, वे राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) से सम्पर्क कर सकते हैं, जो उनके आग्रह को देखेगी।'' गौरतलब है कि साझा विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा (सीयूईटी) या सीयूईटी-यूजी का आयोजन राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) 15 जुलाई से 10 अगस्त तक करेगी। सीयूईटी के प्रथम संस्करण के लिये 11 लाख से अधिक छात्रों ने पंजीकरण कराया है। परीक्षा को लेकर प्रवेश कार्ड एनटीए ने सोमवार को जारी किया। कुमार ने कहा कि देश के 500 शहरों में आयोजित होने वाली परीक्षा के लिये बड़ी संख्या में उम्मीदवारों ने पंजीकरण कराया। यह एक वृहद कार्य है तथा एनटीए परीक्षा आयोजित करने वाली एक पेशेवर संस्था है, ऐसे में छात्रों को परेशान नहीं होना चाहिए। ज्ञात हो कि कुमार ने मार्च में घोषणा की थी कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिला लेने के लिये सीयूईटी के अंक जरूरी होंगे, 12वीं कक्षा के अंक नहीं। केंद्रीय विश्वविद्यालय न्यूनतम पात्रता अर्हता तय कर सकते हैं। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि राज्य बोर्ड के छात्रों को नई व्यवस्था से कोई नुकसान नहीं होगा।

No comments:
Write comments