DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Saturday, July 16, 2022

माध्यमिक शिक्षा : शैक्षिक सत्र 2022-23 के लिये प्रदेशीय विद्यालयी खेलकूद प्रतियोगिताओं का वार्षिक खेल कार्यक्रम जारी, देखें।

माध्यमिक शिक्षा : शैक्षिक सत्र 2022-23 के लिये प्रदेशीय विद्यालयी खेलकूद प्रतियोगिताओं का वार्षिक खेल कार्यक्रम जारी, देखें।

स्कूलों को खेल प्रतियोगिताओं में भाग लेना अनिवार्य, माध्यमिक विद्यालयों का सालाना खेल कार्यक्रम जारी


लखनऊ : माध्यमिक स्कूलों में पढ़ाई के साथ-साथ खेल पर भी पूरा जोर दिया जाएगा। स्वस्थ तन में स्वस्थ मन का वास होता है, इसके महत्व को समझते हुए सभी स्कूल अपने विद्यार्थियों को प्रेरित करेंगे कि वह खेल-कूद में बढ़चढ़कर हिस्सा लें। सभी माध्यमिक स्कूलों को कम से कम दो खेल प्रतिस्पर्धा में अपने विद्यार्थियों को प्रतिभाग कराना अनिवार्य होगा। अगर कोई विद्यालय ऐसा नहीं करता है तो जांच कर उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।


माध्यमिक शिक्षा निदेशक डा. सरिता तिवारी की ओर से निर्देश दिए गए हैं कि 25 जुलाई, 2022 से पांच नवंबर 2022 तक जिला स्तर से राज्य स्तर तक आयोजित होने वाली खेलकूद प्रतियोगिताओं में विद्यार्थियों को बढ़ चढ़कर प्रतिभाग करने का अवसर दिया जाए। किसी भी कीमत पर विद्यार्थी को इसमें प्रतिभाग करने से न रोका जाए। प्रार्थना सभा के बाद 20 मिनट शारीरिक प्रशिक्षण (पीटी) जरूर कराया जाए।


सभी स्कूलों को निर्देश दिए गए हैं कि वह व्यायाम शिक्षक के द्वारा खेलकूद में अच्छे विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करें। क्रीडा की एक कक्षा अनिवार्य रूप से लगाई जाए। ऐसे स्कूल जहां व्यायाम शिक्षक नहीं हैं, वहां पांचवें पीरियड और सातवें पीरियड खेलकूद व शारीरिक शिक्षा की गतिविधियां अनिवार्य रूप से संचालित की जाएं। 


प्रदेश स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिताओं में 19 वर्ष से कम आयु के सीनियर वर्ग में 17 वर्ष से कम आयु के जूनियर वर्ग में और 14 वर्ष से कम आयु के विद्यार्थियों को सब जूनियर वर्ग में शामिल किया जाएगा। फुटबाल, हाकी, तैराकी, बैडमिंटन, कबड्डी, वालीबाल, खो-खो, क्रिकेट, हैंडबाल, जिमनास्टिक, बाक्सिंग व रायफल शूटिंग आदि की जिला, मंडल व राज्यतरीय प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी।




यूपी बोर्ड के स्कूलों में 20 मिनट का शारीरिक प्रशिक्षण जरूरी, सत्र 2022-23 की खेलकूद प्रतियोगिताओं का वार्षिक कार्यक्रम जारी।


लखनऊ। यूपी बोर्ड के विद्यालयों में प्रार्थना सभा के बाद विद्यार्थियों व कार्यरत शिक्षकों के लिए 20 मिनट का शारीरिक प्रशिक्षण जरूर कराने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं जिन विद्यालयों में व्यायाम शिक्षक तैनात हैं, वहां अलग-अलग कक्षाओं के विद्यार्थियों को अलग-अलग खेलकूद व शारीरिक गतिविधियों में अनिवार्य रूप से प्रतिभाग कराने को भी कहा गया है। ये निर्देश माध्यमिक शिक्षा निदेशक की ओर से शुक्रवार को जारी शैक्षिक सत्र 2022-23 के खेलकूद प्रतियोगिताओं के वार्षिक कार्यक्रम में दिए गए हैं।


इसमें कहा गया है कि जहां व्यायाम शिक्षक नहीं हैं, वहां नामित शिक्षक के जरिए खेलकूद और शारीरिक गतिविधियों का आयोजन कराया जाए। साथ ही जिन विद्यालयों में पर्याप्त खेल की सामग्री व मैदान है, वहां अलग-अलग दिनों में अलग-अलग कक्षाओं के लिए खेलकूद व शारीरिक गतिविधियों का आयोजन किया जाए। इसके साथ ही प्रदेशीय विद्यालयीय खेलकूद प्रतियोगिताओं का कार्यक्रम भी घोषित कर दिया गया है। जिला व मंडलीय क्रीड़ा समिति का पुनर्गठन करने के निर्देश दिए गए हैं। जुलाई से नवंबर के बीच होने वाली अलग-अलग खेल प्रतियोगिताओं का कार्यक्रम भी जारी कर दिया गया है।

No comments:
Write comments