DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Thursday, September 29, 2022

बच्चों को बेहतर ढंग से शिक्षा प्रदान की जाये इसका विशेष ध्यान रखा जाए, वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बोले बेसिक शिक्षा मंत्री

बच्चों को बेहतर ढंग से शिक्षा प्रदान की जाये इसका विशेष ध्यान रखा जाए, वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बोले बेसिक शिक्षा मंत्री 


उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  संदीप सिंह ने कहा कि बेसिक शिक्षा एवं समग्र शिक्षा के अंतर्गत ब्लॉक स्तर पर संचालित विभिन्न कार्यक्रमों के क्रियान्वयन बेहतर ढंग से करते हुए विभागीय कार्यों को निर्धारित समय में किया जाना चाहिए, इसमें किसी प्रकार की ढिलाई नहीं की जाये। प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों को बेहतर ढंग से शिक्षा प्रदान की जाये इसका विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए। प्रेरणा पोर्टल पर पंजीकृत छात्र-छात्राओं के सापेक्ष आधार प्रमाणीकरण के कार्य को गम्भीरता से लेते हुए समय से कराया जाये।


यह निर्देश संदीप सिंह ने कल लखनऊ स्थित योजना भवन में उ0प्र0 के खण्ड शिक्षा अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से दिये हैं। उन्होंने कहा कि विभागीय कार्यों को मेहनत से किया जाये, विद्यालयों में पेयजल की व्यवस्था बेहतर होनी चाहिए, इसके साथ ही शौचालय बेहतर ढंग से क्रियाशील होना चाहिए। इसका भी विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए।


उन्होंने आधार कार्ड विहीन छात्र-छात्राओं के आधार कार्ड बनाये जाने, ‘‘जल जीवन मिशन’’ के अन्तर्गत यू0पी0पी0सी0एल0 द्वारा कराये जा रहे पाइप्ड पेयजल आपूर्ति के अन्तर्गत किये गये कार्यों का सत्यापन, प्रेरणा पोर्टल पर ऑपरेशन कायाकल्प हेतु व्यय धनराशि की फीडिंग की प्रगति, विकास खण्ड स्तर पर शिक्षक प्रशिक्षण (04 दिवसीय) पूर्ण करना, विद्यालयों में ‘‘हमारे शिक्षक’’ बोर्ड लगाये जाने की प्रगति, निपुण विद्यालय, शिक्षक-विद्यार्थी सम्बन्धी अभियान, विद्यालयों में नामांकित सभी विद्यार्थियों एवं सभी शिक्षकों की उपस्थिति, शिक्षकों द्वारा आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका का उपयोग करने की प्रगति, सभी विद्यालयों में पुस्तकालय/रीडिंग कॉर्नर की स्थापना एवं कालांश निर्धारित करना, मानव सम्पदा पोर्टल पर शिक्षकों द्वारा सेवा पुस्तिका ऑनलाइन जाँचकर सत्यता संबंधी प्रमाण-पत्र उपलब्ध कराने हेतु विकासखंड स्तर पर त्रुटियों का निराकरण की प्रगति, शिक्षकों के अवकाश स्वीकृति की प्रगति सहित अन्य विभागीय कार्यों की प्रगति की समीक्षा की।


प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा  दीपक कुमार ने कहा कि मा0 मंत्री के द्वारा आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जो निर्देश दिए गए हैं उसका अनुपालन अवश्यक सुनिश्चित किया जाय। इस अवसर पर महानिदेशक स्कूल शिक्षा  विजय किरण आनन्द सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।




14 बिन्दुओं में जानिए बैठक का निचोड़,  वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए खण्ड शिक्षाधिकारियों को बेसिक शिक्षा मंत्री ने दिए ये निर्देश


उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) संदीप सिंह ने निर्देश दिए हैं कि स्कूलों में गुणवत्ता परक शिक्षा दी जाए। ब्लॉक स्तर पर संचालित विभिन्न कार्यक्रमों का क्रियान्वयन बेहतर ढंग से किया जाए। प्रेरणा पोर्टल पर पंजीकृत छात्र-छात्राओं के सापेक्ष आधार प्रमाणीकरण के काम को गंभीरता से लेते हुए इसे पूरा किया जाए। 


संदीप सिंह बुधवार को खण्ड शिक्षा अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंस कर रहे थे। उन्होंने कहा कि स्कूलों में पेयजल की व्यवस्था बेहतर हो, शौचालय बेहतर ढंग से क्रियाशील हों और जल जीवन मिशन के तहत यूपीपीसीएल द्वारा कराए जा रहे पाइप्ड पेयजल आपूर्ति के तहत किए जा रहे कामों का सत्यापन किया जाए। विभिन्न योजनाओं की समीक्षा करते हुए प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा दीपक कुमार ने कहा कि सभी योजनाओं को समयबद्ध ढंग से पूरा किया जाए। इस मौके पर महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरण आनन्द सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।


मीटिंग में दिए निर्देश
 
1. आधार विहीन छात्रों के आधार त्वरित गति से बनाना, आधार पेंडिंग @ स्कूल को अतिशीघ्र वेरिफिकेशन करके पेंडेन्सी समाप्त करे।

2. शारदा पोर्टल पर प्रगति बहुत खराब है, नोडल शिक्षक वार समीक्षा करके चिंहित करे कि अभी तक कौन नोडल है जिसने शारदा एप पर कोई एंट्री नही की।

3. नॉट सीडेड पर DBT पोर्टल मे अपेक्षित प्रगति नही हुए। स्कूल वार खराब प्रदर्शन वाले चिंहित कर उत्तरदायित्व निर्धारित करें।

4. मानव संपदा का डाटा त्रुटि रहित करने किस स्तर पर पेंडेन्सी है और क्यों है, चिंहित कर कार्यवाही प्रस्तावित करे। 

5. Udise पोर्टल  को अपग्रेड कर दिया है, अब छात्रों के नाम भी आधार नंबर सहित अंकित किये जायेंगे। अभी से तैयारी सुनिश्चित करें।

6. अध्यापको की समस्या सही से सुनकर उनका समाधान यथा समय करे लिपिक या अनुचर किसी भी शिक्षक को परेशान न करे। यदि कोई प्रतिकूल पाया गया तो विभागीय कार्यवाही निश्चित है।

7. प्रतिमाह टीचर अटेंडेंस समय से लॉक कराये। समय से लॉक न करने वाले पर उत्तरदायित्व तय करे। 

8. मानव संपदा पोर्टल पर दर्ज छात्र संख्या का भौतिक सत्यापन रैंडम आधार पर करके रिपोर्ट दे। 

9. जो शिक्षक दूसरे जनपद से आये है, उनका लीव रिकॉर्ड जांचोपरांत अपडेट करें।

10. कंपोजिट ग्रांट की वाल पेंटिंग न करने वाले स्कूल को संदिग्ध मानते सघन जांच करे और अनुपालन न करने पर दंडित कराये। 

11. कायाकल्प पर हेडमास्टर अपने स्कूल में पत्रावली रखे और प्रधान को प्रगति से अवगत करा कर 19 पैरामीटर्स पर कार्यवाही करे। 

12. निपुण लक्ष्य के प्रति जागरूक होकर प्रत्येक शिक्षक स्वयं हाथ से चार्ट  बनाकर , अपनी क्लास मे चस्पा करे, यदि निरीक्षण में ऐसा नहीं मिला तो उत्तरदायित्व तय करे। 

13. प्रतिदिन प्रसारित शिक्षक संदर्शिका के अनुसार पढाई सुनिश्चित की जाय, निरीक्षण के समय गहनता से परखा जाय। 

14. अंत में  मंत्री जी द्वारा संबोधित किया गया कि BEO अपनी भूमिका को अच्छी तरह से समझे और समन्वय बनाकर कार्य करे।


No comments:
Write comments