DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Wednesday, September 28, 2022

UP : मदरसों में अब एक घंटा ज्यादा पढ़ाई, सुबह नौ बजे से तीन बजे तक होगी पढ़ाई

UP : मदरसों में अब एक घंटा ज्यादा पढ़ाई, सुबह नौ बजे से तीन बजे तक होगी पढ़ाई


यूपी की योगी आद‍ित्‍यनाथ सरकार बच्‍चों की श‍िक्षा पर काफी फोकस कर रही है। इसी के साथ सरकार ने मदरसों में भी पढ़ाई का समय बदल द‍िया है। आज से पांच की जगह छह घंटे पढ़ाई होगी।


लखनऊ | प्रदेश के सभी मदरसों में शनिवार यानी आज एक अक्टूबर से पढ़ाई का समय बदल गया है। आज एक घंटा अधिक पढ़ाई होगी। समय बदलने के बाद आज पहले द‍िन सुबह मदरसा में आए छात्रों की राष्‍ट्रगान से शुरुआत की गई।


सुबह नौ बजे से तीन बजे तक होगी पढ़ाई
उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद ने मदरसों का समय सुबह नौ बजे से दोपहर तीन बजे तक कर दिया है। पहले मदरसों में सुबह नौ से दो बजे तक पढ़ाई होती थी। मदरसा बोर्ड के चेयरमैन डा. इफ्तिखार अहमद जावेद ने बताया कि सभी मान्यता प्राप्त मदरसों में अब छह घंटे पढ़ाई कराई जाएगी। इससे बच्चों के व्यक्तित्व का बेहतर विकास हो सकेगा। 


छात्रों को दी जाएगी आधुन‍िक श‍िक्षा
सुबह की दुआएं (प्रार्थना) व अनिवार्य रूप से राष्ट्रगान कराने के निर्देश दिए गए थे। उन्होंने बताया कि मदरसों का समय एक घंटा बढ़ने से छात्र-छात्राओं को दीनियात की पढ़ाई के साथ ही आधुनिक शिक्षा के लिए पर्याप्त समय मिल जाएगा। मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष डा. इफ्तिखार अहमद जावेद ने बताया कि अब बच्‍चों को हिंदी, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान एवं सामाजिक विज्ञान भी पढ़ाया जाएगा। ज‍िससे छात्रों का सामाज‍िक व‍िकास हो सके।


महापुरुषों व स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की सुनाई जाएंगीं कहान‍ियां
इसके साथ ही मदरसों में देश के इतिहास व खासकर महापुरुषों व स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि यहां के बच्चों में देश प्रेम व भक्ति का भाव जागृत हो सके और वे महापुरुषों के जीवन से प्रेरणा ले सकें।


प्रदेश सरकार मदरसों में आनलाइन पढ़ाई के लिए शिक्षक तैयार कर रही है। इसके लिए राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) के दीक्षा पोर्टल की मदद ली जा रही। मदरसा शिक्षकों को पोर्टल के जरिए आनलाइन प्रशिक्षण दिलाया जाएगा।


बोर्ड अब मदरसों में आनलाइन पढ़ाई के लिए मूलभूत सुविधाएं जुटाने में लगा हुआ है। लाकडाउन के समय जब स्कूल-कालेज बंद हुए तो केंद्र सरकार ने आनलाइन पढ़ाई के लिए दीक्षा पोर्टल व मोबाइल एप शुरू किया था। आनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था न होने से सर्वाधिक नुकसान मदरसों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं का हुआ था।



बदलाव: प्रदेश के मदरसों में छह घंटे की पढ़ाई अनिवार्य

मदरसों में अब संचालक नहीं कर पाएंगे मनमर्जी

सुबह नौ बजे प्रार्थना या राष्ट्रगान किया जाएगा



लखनऊ  । उत्तर प्रदेश के मदरसों में भी अब अन्य शिक्षण संस्थानों की ही तरह छह घंटे पढ़ाई होगी। अभी तक राज्य के अनुदानित व मान्यता प्राप्त मदरसों में शिक्षण कार्य की अवधि मदरसा प्रबंधक / संचालक की मर्जी से तय होती थी।


उत्तर प्रदेश मदरसा बोर्ड ने अब इन मदरसों का टाइम टेबल बदलकर सभी मदरसों में छह घंटे की पढ़ाई अनिवार्य कर दी है। मदरसा बोर्ड के रजिस्ट्रार जगमोहन सिंह ने इस बारे में आदेश जारी कर दिया है। पहली अक्तूबर से इन मदरसों में सुबह नौ बजे प्रार्थना यानि दुआ और फिर राष्ट्र गान होगा। इसके बाद सुबह नौ बजकर बीस मिनट से कक्षाएं चलेंगी। बारह से साढ़े बारह बजे के बीच इन्टरवल होगा। उसके बाद पुनः दोपहर तीन बजे तक कक्षाएं चलेंगी।



यह जानकारी यूपी मदरसा बोर्ड के चेयरमैन डा. इफ्तिखार जावेद ने दी है। प्रदेश सरकार मदरसों में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए कदम उठा रही है। इसी के तहत हाल ही में मदरसों से उनके संचालन से जुड़े तथ्यों का ब्योरा मांगा गया है ताकि उनकी वस्तुस्थिति के बारे में तस्वीर साफ रहे ।

No comments:
Write comments